आइए आवारगी के साथ बंजारापन सर्च करें

11 February 2008

पूरा हुआ एक साल

11 फरवरी 2007 कोई खास दिन नही लेकिन फिर भी मेरे लिए इसका यह महत्व है कि इसी दिन मैं ब्लॉगजगत में आया और पहली पोस्ट मैने की थी।


ब्लॉगजगत से मेरा परिचय अपने बड़े भाई डॉ अखिलेश के मार्फत हुआ था। दिसंबर 2006 में उन्होने मुझे अपने ई मेल में आए एक लिंक को देते हुए कहा कि इसे पढ़ो, मैने उस लिंक को देखा तो पाया कि न केवल वह हिंदी में है बल्कि वह एक शोध आलेख था, जिसके लेखक थे साहित्यकार जयप्रकाश मानस जी और वह लिंक था "इंटरनेट के पृष्ठों पर राज करती हिंदी"

जिस किसी ने मानस जी के इस आलेख को नही पढ़ा है तो जरुर पढ़ें।


तो दिसंबर 2006 में मेर परिचय हुआ ब्लॉग जगत से और इसके बाद दो महीने तक मैं मानस जी के इस पोस्ट को पढ़ता गया और उसमें दिए बहुत से हाईपर लिंक के माध्यम से अन्य लिंक्स पर जा जाकर पढ़ता गया। पढ़ा, रवि रतलामी जी को, पढ़ा भाई ई-पंडित, फुरसतिया जी, देवाशीष जी और आलोक जी,जीतू भाईउड़नतश्तरी के साथ अन्य बहुत से लोगों को।


इसी तरह ब्लॉग्स पढ़ते-पढ़ते सारी जानकारी बटोरी कि आखिर ब्लॉग है,क्या कैसे बनाएं व कैसे लिखें और अंतत: फरवरी 2007 में अपना ब्लॉग आवारा बंजारा बनाकर 11 फरवरी को पहली पोस्ट लिखी। चूंकि ब्लॉग बनाया था वर्डप्रेस पर लेकिन एक महीने के अंदर ही मैने अपना ब्लॉग वर्डप्रेस की बजाय ब्लॉगर पर शिफ्ट कर लिया। इसमें ई-पंडित और रवि रतलामी जी की तकनीकी पोस्टों ने बहुत मदद की।



अपने इस साल भर के ब्लॉग सफर मैनें अब तक कुल 111 पोस्ट लिखी । मैनें अपने इस चिट्ठे पर टिप्पणियों में मॉडरेशन का विकल्प जरुर रखा है लेकिन कभी कोई टिप्पणी न ही मैने रोकी है न ही रोकूंगा।


अपने इस ब्लॉग को शुरु करते वक्त ही मैने यह सोच रखा था कि इस पर अपने स्व से ज्यादा अपने आसपास अर्थात छत्तीसगढ़ पर लिखना है और इसी बात पर आगे भी कायम रहना चाहूंगा।



मैं आभारी हूं सभी वरिष्ठ और ज्ञानवान ब्लॉगर्स का जिनके लेखन को पढ़कर मैने बहुत कुछ सीखा व सीख ही रहा हूं। खासतौर से मैं आभारी हूं रवि रतलामी जी और ई-पंडित का जिनकी तकनीकी पोस्टों ने कम से कम मुझे अ-तकनीकी व्यक्ति को इतना सीखा दिया कि अब मित्रों और अजनबियों को ब्लॉग बनाने और उसकी साज सज्जा करने में मदद कर सकता हूं। शुक्रिया,शुक्रिया आप सभी का। सबसे ज्यादा तो आभारी हूं उड़नतश्तरी का जिन्होने अपनी टिप्पणियों के माध्यम से तब मेरा उत्साह वर्धन किया।
आभारी मैं अपने सभी जाने-अनजाने पाठकों का भी हूं और उन पाठकों का भी जिन्होने इस ब्लॉग को ई-मेल पर सबस्क्राईब किया हुआ है।

Photobucket

31 टिप्पणी:

अफ़लातून said...

सालगिरह पर हार्दिक शुभकामना । उत्साह बना रहे।

उन्मुक्त said...

साल पूरा करने पर बधाई। इसी तरह बढ़िया लिखते चलें।

' said...

संजीत जी
हिन्दी ब्लॉग जगत मे एक वर्ष पूर्ण करने पर आपको मेरी और से हार्दिक शुभकामना . आने वाले नए साल मे आप हिन्दी ब्लॉग जगत मे नए आयाम स्थापित करेंगे . ढेरों शुभकामना के साथ

Parul said...

MUBAARKAAN....

प्रशांत तिवारी said...

भाई एक साल पुरा करे के हार्दिक शुभकामना

Gyandutt Pandey said...

साल पूरा होने और उसमें सबका आत्मीय बन जाने की बहुत बधाई।
बहुत प्रिय हो तुम संजीत!

visfot said...

सालगिरह पूरा करने पर एक सलाह.
Edit Header में जाकर फोटो को आगे खींच लाइये तो दो बार आवारा बंजारा नहीं दिखेगा.
अपने यहां तो दो बार दिख रहा है. एक इमेज वाला और दूसरा टेक्स्ट.

neelima sukhija arora said...

बधाई।

anitakumar said...

संजीत जी ब्लोग के जन्मदिन पर आप को बधाई। भगवान करे आप का ब्लोग दिन दूनी और रात चौगुनी उन्नती करे( वैसे आप अपनी पोस्ट रात में ही लिखते हैं न?)इस अवसर पर हम सब नवोदित ब्लोगरस आप का शुक्रिया करना चाहेगे जिनको इस ब्लोग जगत में आने में आप ने खुले दिल से मदद की। May God Bless YOu

पंकज अवधिया Pankaj Oudhia said...

क्या कहा सिर्फ एक साल हुये है? ब्लाग पर सामग्री देखकर तो ऐसा नही लगता। इतने कम समय मे इतनी अधिक पहचान समर्पण का परिचायक है। शुभकामनाए। इस साल उस संजीत की झलक जरूर दिखाना जिसके अन्दर पत्रकारिता बसती है।

छत्‍तीसगढिया .. Sanjeeva Tiwari said...

ब्लागिंग सालगिरह की हार्दिक शुभकामनायें ।

Sanjeet Tripathi said...

शुक्रिया आप सभी का!!
आभारी हूं!!

ज्ञान दद्दा, बस आपका आशीर्वाद मिलता रहे!

संजय जी, आपने जो सलाह दी वह करके देख चुका हूं,दर-असल इस टेम्प्लेट में सब कुछ एच टी एम एल कोडिंग से ही संभव है सो कोशिश जारी है!!

Tarun said...

saalgirha ki bahut bahut badhai ho ji....aise hi utsaah bana rahe ye hi kaaamna hai.

Lokesh Sharma said...

संजीत भाई, हिन्दी ब्लॉग जगत मे एक वर्ष पूर्ण करने पर आपको मेरी और से हार्दिक शुभकामना. (viele Glück und viele spaß)

अजित वडनेरकर said...

अरे वाह भई वाह। सालगिरह की मुबारकबाद लें और नए साल की तैयारी कर लें।

अनूप शुक्ल said...

साल गिरह की बधाई!

meenakshi said...

haardik shubhkaamnaayain !

राजीव जैन Rajeev Jain said...

एक साल लगातार
गुड माइलेज

Udan Tashtari said...

बहुत बहुत बधाई और अनेकों शुभकामनायें. आभार हेतु धन्यवाद. :)

Manish said...

सालगिरह की हार्दिक शुभकामनायें !

दिनेशराय द्विवेदी said...

साल गिरह मुबारक हो। अगली साल गिरह तक रोज एक पोस्ट लिखते रहें।

Pramod Singh said...

ब.. ढ.. |.. ई..

ALOK PURANIK said...

बधाई च शुभकामनाएं

Raviratlami said...

धन्यवाद, और सालगिरह की हार्दिक बधाई!

मुझे विश्वास है कि आप ऐसे ही लिखते रहेंगे और एक दिन ब्लॉग जगत के धुरंधर, बेहद सफल लिख्खाड़ों में जाने जाएंगे :)

Jitendra Chaudhary said...

संजीत भाई,
आपके ब्लॉग का एक वर्ष पूरा होने पर बहुत बहुत बधाई। उम्मीद है आप इसी तरह ब्लॉग का जन्मदिन मनाते रहेंगे और लगातार लिखते रहेंगे।

Poonam said...

ब्लागिंग की पहली सालगिरह पर बधाई और आगे के लिये शुभकामनाएं.

mamta said...

संजीत जी पहली सालगिरह पर बहुत बहुत बधाई और भविष्य के लिए शुभकामनाएं !!

anuradha srivastav said...

संजीत चिठ्ठाकारिता में एक साल पूरे करने पर हार्दिक शुभकामनायें। आने वाले समय में नये प्रतिमान स्थापित करिये बस यही कामना है।

Sanjeet Tripathi said...

आभारी हूं आप सबके स्नेह और शुभकामनाओं के लिए!!

@प्रमोद जी, आपका तो मैं विशेष आभारी हूं। यदि आपकी लेखन शैली का दसवां हिस्सा भी अपने में आत्मसात कर कुछ सीख सका तो मजा आ जाए!!

Priyankar said...

ब्लॉग की सालगिरह मुबारक हो . ऐसे ही लिखते रहें -- बढते रहें . आगे के लिए शुभकामनाएं .

sanjay pandey said...

संजीत भैया ब्लॉग की सालगिरह की बधाई दिल से....हमें आशा ही नहीं विश्वास है की यह कारवां नित नए नए प्रतिमान स्थापित करेगा..

Post a Comment

आपकी राय बहुत ही महत्वपूर्ण है।
अत: टिप्पणी कर अपनी राय से अवगत कराते रहें।
शुक्रिया ।