आइए आवारगी के साथ बंजारापन सर्च करें

26 July 2007

दिखते वीडियो का सच-अमन की नज़र से

पिछले कुछ दिनो से तकरीबन सभी खबरिया चैनलों पर एक फ़ुटेज दिखाया जा रहा है जिसमें कि एक बाघ/बाघिन( टाईगर।टाईग्रेस) हाथी पर बैठे किसी व्यक्ति पर उछल कर हमला कर रहा है और इसे वीडियो पर कैप्चर हाथी पर ही बैठे किसी अन्य व्यक्ति ने किया है! यह वीडियो हमने भी दो तीन चैनलों पर देखा। कल ही हमने पाया कि जबलपुर निवासी हमारे एक वाईल्डलाईफ़ प्रेमी मित्र अमन विलियम्स जो कि अक्सर खुद को किसी कन्या का प्रेमी कहलाने की बजाय टाईगर लवर कहलाना पसंद करते है ने इस मुद्दे पर अपने ब्लॉग़ सेव द टाईगर में कुछ लिखा है।
अमन भाई की अनुमति लेकर उसका अनुवादित अंश मैं यहां प्रस्तुत कर रहा हूं।
बकौल अमन---
"जैसा कि अब यह एक मुद्दा बन चुका है जो करीब करीब सभी राष्ट्रीय समाचार चैनलों में दिखाया भी जा रहा है मैने यह तय किया कि इस घटना से जुड़े कुछ तथ्य यहां लिखूं।सभी समाचार चैनल कुछ कहानी बताते हुए एक बाघ द्वारा हमला किए जाने का वीडियो दिखा रहे हैं जो कि गलत है। दर-असल मुद्दा यह नही है , मुद्दा यह है कि असल में क्या हुआ था। समाचार चैनलों द्वारा दिखाए जा रहे इस वीडियो को देखने के बाद बहुत से लोग शायद अपने आप को नेशनल पार्क(राष्ट्रीय उद्यानों)मे सुरक्षित महसूस ना करें पर ऐसा नही है। मै कोई बाघ विशेषज्ञ या टाईगर एक्सपर्ट नही हूं और ना ही मुझे बाघों का पीछा करते, उन्हें फ़िल्मानें, उनका अध्ययन करते बहुत ज्यादा समय हुआ है। फ़िर भी मै एक बात तो कह ही सकता हूं…जब तक कि आप बाघ को तकलीफ़ ना पहुंचाएं वो आपको कुछ नही करेगा और सामान्यतया: बाघ शर्मीला ही होता है!"

अमन ने अपने ब्लॉग़ मे एक वीडियो और कुछ चित्र भी डाल रखे हैं जिन्हें देखने और आगे पढ़ने के लिए उनके ब्लॉग़ में जाना होगा, जो कि यह रहा

9 टिप्पणी:

ALOK PURANIK said...

अच्छी जानकारी के लिए धन्यवाद

anuradha srivastav said...

सही जानकारी देने के लिये आप और अमन दोनों ही बधाई के पात्र हैं।

Sanjeeva Tiwari said...

बहुत बढिया जानकारी दी संजीत भाई आपने आपके वाईल्‍ड लाईफ वाले वकील साहब को भी हमारी बधाई कहें । हमने भी कल ये फुटेज देखा था जिसके बाद हमारे मन में वही भाव आये थे जिसे आपने व्‍यक्‍त किया है । शुक्रिया पूरी जानकारी के लिए ।
संजीव

ज्ञानदत्त पाण्डेय/Gyandutt Pandey said...

अच्छा, तो यह बाघ के व्यवसायिक दोहन का मामला है. निन्दनीय.

Udan Tashtari said...

बढ़िया जानकारी.

shanoo said...

बढ़ीया और रोचक जानकारी है अमन जी के ब्लोग पर विडियो देख कर तो मै डर ही गई थी...मगर फ़िर इस बात को समझा जैसा कि आपने लिखा है कि अगर बाघ को छेड़ा न जाये तो वह नुकसान नही पहुँचाता।

बहुत-बहुत शुक्रिया...जानकारी के लिये।

सुनीता(शानू)

PRANAY SHRIVASTAVA said...

THANKS FOR SHARING THIS INFORMATION SIR.

Pushpa Tripathi said...

AMAN JI ka bahutbahut dhanyawaad jo unhone sacchai saamne rakhi.

Shastri J C Philip said...

जानकारी के लिये आभार. वीडियो कडी एवं मूल लेख की कडी के लिये भी आभार.

व्यवसायीकरण के इस युग में अर्धसत्य का प्रचार हर जगह हो रहा है. -- शास्त्री जे सी फिलिप

हिन्दी ही हिन्दुस्तान को एक सूत्र में पिरो सकती है
http://www.Sarathi.info

Post a Comment

आपकी राय बहुत ही महत्वपूर्ण है।
अत: टिप्पणी कर अपनी राय से अवगत कराते रहें।
शुक्रिया ।