आइए आवारगी के साथ बंजारापन सर्च करें

23 September 2007

पूर्व प्रेमी का खत

इंटरनेट पर भटकते हुए ही कहीं पर रामविलास जांगिड़ द्वारा एक पूर्व प्रेमी का अपनी प्रेमिका के नाम लिखा यह खत दिख गया। इंटरनेट पर यह सैकड़ो-हजारों की नज़र में आया होगा इसलिए यह भी संभव है कि कहीं किसी ब्लॉग पर पहले भी आ चुका हो। इस बात को नज़र-अंदाज़ करते हुए इसे यहां दिया जा रहा है।


पूर्व प्रेमी का खत
डीयर डिंपू,

तुमने डेढ़ बरस तक जो मुझसे प्यार किया, उसका शुक्रिया। आशा है,पत्र मिलने तक तुमने नया प्रेमी पकड़ लिया होगा। उसके साथ अब डेटिंग पर भी जा रही होगी। हर प्रेमी को बहुत स्ट्रगल करना पड़ता है। मैं भी स्ट्रगल कर रहा हूं। प्यार के ढाई आखर कमबख्त बड़े मुश्किल से पकड़ में आते हैं। मैंने भी तुम्हे मिस करने के
बाद मुहल्ले की ही शीनो पर लंगर डालना शुरु कर दिया है। प्रेम का मेरा यह चौथा प्रयास है। लेकिन इन प्रयासों ने मुझे एक सीख दी है। डिंपू, तुम तो जानती हो कि प्रेम शुरु करते ही कमबख्त लव लेटर लिखने पड़ते हैं। पता है न,मैने तुम्हे कितने पत्र लिखे? पहले के दो प्रेम-प्रकरणों में भी लेटरबाजी करनी पड़ी। बड़ा झंझट है प्रेम मार्ग में। इसीलिए तुम मेरे समस्त प्रेम पत्र लौटा देना। तुम्हें लिखे उन प्रेम पत्रों पर सफ़ेदा पोतकर डिंपू की जगह शीनो लिख दूंगा। इससे मेरी मेहनत बच जाएगी। प्लीज़, मेरे प्रेम पत्र लौटा देना,क्योंकि उनकी फोटो कॉपी भी मेरे पास नही है।


डिंपू,तुम मेरी वह फोटो भी वापस कर देना। तुम तो जानती हो कि वही एकमात्र फोटो ऐसी है,जिसमें मै ठीक-ठाक दिखता हूं। वह मेरे पहले प्यार वाले दिनों की फोटो है। बड़ी कीमती है। मेरे प्रेम पत्रों के साथ मेरी वह फोटी भी भेज देना,ताकि शीनो को भेज सकूं।


और हां,अपने प्यार कांड में डेढ़ वर्ष के दौरान मेरे द्वारा किए गए खर्च का हिसाब भेज रहा हूं। आशा है,तुम शीघ्र ही इस खर्च का भुगतान कर भरपाई करा दोगी,ताकि तुम्हें भी नए प्यार के लिए मेरी ओर से एनओसी जारी हो सके और मैं भी नए प्यार पर खर्च करना शुरु कर दूं। हिसाब इस प्रकार है: चाट
पकौड़ी 896 रुपए,कोल्ड ड्रिंक्स 2938रुपए,स्नेक्स5645रुपए, जूस3845 रुपए, फ़िल्म 1235रुपए,चैटिंग 1499रुपए,मोबाईल फोन वार्ता 2546रुपए, पेट्रोल खर्च 4255 रुपए, गिफ़्ट 7850 रुपए। सकल योग 30,708 रुपए (अक्षर में : तीस हजार सात सौ आठ रुपए मात्र)।



कृपया,ये रुपए मुझे शीघ्र भेजने की कृपा करना, ताकि मै अपनी शीनो के प्यार में इन रुपयों को कुरबान कर सकूं। और हां,यदि तुम्हारे पास मेरे द्वारा दिए गए गिफ़्ट पड़े हों तो मै उन्हें आधी कीमत पर खरीदने को तैयार हूं। तुम उनका हिसाब बनाकर मेरी मूल रकम में से काटकर पुराने गिफ़्टों को भी भेज देना। इस पत्र के साथ तुम्हारे पूरे चार किलो तीन सौ ग्राम के वज़न के प्रेम पत्रों का पुलिंदा संलग्न है,ताकि तुम्हे भी प्रेम पत्र लिखने में परेशानी न उठानी पड़े। तुम्हारी वह सुंदर फोटो भी मैं भेज रहा हूं,जो तुम अपने नए प्रेमी झंडामल को दे सकती हो। तुम अपना हिसाब भी बता देना। वैसे तुम्हारा खर्च तो कुछ भी नही आया होगा। तुम हमेशा अपना पर्स तो भूल जाती थी। कमबख्त प्यार मे लड़कों की ही जेब ढीली होती है। खैर, बीते प्रेम पर कैसा अफ़सोस, जब नया भी पधार चुका है? आशा है,तुम मेरा हिसाब जल्दी से जल्दी साफ़ करके मुझे नए प्यार में कूदने में मदद दोगी। तुम्हे सातवां प्रेम मुबारक हो।


तुम्हारा छठा पूर्व प्रेमी
मोती






28 टिप्पणी:

anitakumar said...

हा हा ……धन्य हैं जी आज कल के प्रेमी॥…मितान, हो सकता है ये पहले किसी और ब्लोग पर आया हो पर हमने नहीं देखा हुआ था इसलिए पढ़ने में मजा आया, धन्यवाद। जहां एक तरफ़ लेख मुस्कुराहट लाता है वहीं रिश्तों में रिस आये मेटिरिलस्म की तरफ़ भी इशारा करता है और गहरा कटाक्ष है।बधाई॥

Suresh Chiplunkar said...

पढ़ा था, लेकिन फ़िर से पढ़कर भी मजा आ गया...

shrdh said...

hahaha sahi hai sanjeet ji ne bhi ek aisi love story likhi hai ki hanste hanste halat khrab ho gayi hai

विनीत कुमार said...

हां भाई,अब तो लव तो लोभ हो गया है,दूसरे में कोई ऑफर है तो उसी से कनेक्ट हो गए और आपकी वैलिडिटी खत्म हो गई, ये उत्तर-आधुनिक जमाने का प्यार है भई।...सही है

रंजू said...

वाह वाह !! क्या प्यार है :) मज़ा आ गया पढ़ के ...सच में अब प्यार यही है ...:)

Gyandutt Pandey said...

क्या लड़की होगी वह - इस रेट से 2 लाख से ज्यादा खर्च कर चुके होंगे लड़के उसपर! इतने में तो कई परिवार मजे से दो साल खर्च चला सकते हैं!

Udan Tashtari said...

तुम तो जानती हो कि वही एकमात्र फोटो ऐसी है,जिसमें मै ठीक-ठाक दिखता हूं।


---haa haa,हा हा!! लगा जैसे मेरा लेटर पकड़ गया है. :)

मजा आ गया पढ़ कर. मगर आजकल लोग रकम काफी ढील देते हैं, ऐसा लगा. :)

Shrish said...

हा हा, मजेदार। वैसे बड़ा महंगा प्यार था जी।

ALOK PURANIK said...

भई बढ़िया है। बेटे प्रेम जो है सो ना सो नैट प्रेक्टिस की तरह से होता है, जिससे चाहे, कर लो। जितनी चाहे कर लो, पर शादी एक फाइनल मैच है, उसकी टीम अलग भी हो सकती है।
वईसे पच्चीस -तीस तक प्रेमों को आजकल कंजरवेटिव ही माना जाता है।

Neeraj नीरज نیرج said...

मोहल्ले के अतिविश्वस्त सूत्रों से पता चला है कि डिंपू ने झंडामल के सामने यह बिल रखकर कहा है कि पहले मोती को यह चुकता कर दे तो वह अपना दिल देगी. हमारे संवाददाता के मुताबिक़ झंडामल अपनी पूर्व प्रेमिका से तक़रीबन इतनी ही रकम का जुगाड़कर डिंपू का दिल जीतने की तैयारी कर चुका है.

भैये, ठीक से जोड़ो.. एक रुपए कम जोड़ा है. सकल योग 30 हज़ार 708 के बजाय 30 हज़ार 709 रुपए हो रहा है.

छठा-सातवां प्यार है.. छायी बहार है.. आजा मोरे बालमा वरना आठवां तैयार है.

बहुत मस्त... बधाई संजीत भाई

Manish said...

बस मैं तो यही कहना चाहूँगा संजीत :)

[b]देखो ऐ दीवानों ऐसा काम ना करो
पंयार का नाम बदनाम ना करो[/b]

parul k said...

gr8888888888888888888888...sanjeet

Ali said...

hey broo
wht sort of love was that :-)) lolzz
yeh letter main sare purani gfss ko apne naam se bheju ga (kidding)
bhai its too guddd
bhot maza aaya yeh post parke aapka
Nice to read ur post broo
take care

Dr Prabhat Tandon said...

बिल्कुल मस्त !

Dr Prabhat Tandon said...

बिल्कुल मस्त !!

Mukul Varma said...

waah! maza aa gaya pad kar!

Bade hi besharam aur saste kism ke premi rahe honge dono! hahaha!

yahaan to khat jalaane ka riwaaz raha hai shuru se. kuch jale hue purze nikaal bhi liye the yaadgar ke liye, lekin ab un baaton ko dohraana behtar nahin hai...

sanjeet bhai, ab apne likhe patr bhi prakaashit kar do, yeh to ghisa pita sa jaan padta hai, kuch maulik aur nutan anobhootiyan padne ko mile, to mazaa aa jaaye. :-)

anuradha srivastav said...

मोती तुम्हारी डिंपू ने बताया कि तुम्हारे सभी हिसाब-किताब वो क्लियर कर चुकीं हैं भाई ।

Kumar Rahul said...

Bahut hi badhiya patra hai. Hasi to rukti hi nahi. ye suddha sade manoranjan ka ek aur udaharan hai.

mahashakti said...

मजेदार भई,

जिसके पास हो लड़की वो कर देगी उसको कड़की।

मजेदार

Shiv Kumar Mishra said...

संजीत,
कमाल का प्रेम-पत्र है....पढ़ाने के बाद आधे घंटे तक हंसता रहा...जबर्दस्त.

गिरिराज जोशी said...

वाह!

कमाल का प्रेम-पत्र हाथ लगा है तुम्हारे, मजेदार ;)

तुम्हारा ही तो नही? ;)

राजीव कुमार - 5'8'' - चेनस्मोकर said...

भाई मैंने रामविलास जी का नाम दे दिया है....आपका नाम भी साभार में डाल देता हूँ। इतना मज़ेदार था कि चेप लिया।

Shastri JC Philip said...

बहुत अच्छा चुनाव किया संजीत. पढ कर मजा आ गया -- शास्त्री जे सी फिलिप


हिन्दीजगत की उन्नति के लिये यह जरूरी है कि हम
हिन्दीभाषी लेखक एक दूसरे के प्रतियोगी बनने के
बदले एक दूसरे को प्रोत्साहित करने वाले पूरक बनें

sunita (shanoo) said...

हा हा बहुत ही खूबसूरत लव लैटर है जी यह...जाने कितने लोग है जो एसा ही करते है...बहुत ही बेहुदा मजाक है यह प्रेम में...

शानू

Maulik's Blog said...

kya moti ko mein sanju samju?

lol

Pravin said...

ha! ha! ha! ha!!

kahan fans gaye the aap. aapan to to 200 rupaye ke baad hi hisab kitab barabar kar lete hai.

he he

Pravin

अजित said...

मजा आ गया पढ़ कर..

हेमन्त चन्देल said...

मेरा भी यह पाँचवाँ छठवाँ प्यार है भाई। पर यह आखिरी प्यार लगता है जिंदगी का। इसके बाद हिम्मत नहीं है प्यार करने की।

Post a Comment

आपकी राय बहुत ही महत्वपूर्ण है।
अत: टिप्पणी कर अपनी राय से अवगत कराते रहें।
शुक्रिया ।